देश-विदेश

130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ रही वंदे भारत ट्रेन

Listen to this article

छत्तीसगढ़। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को नागपुर रेलवे स्टेशन से छठी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। यह ट्रेन नागपुर से छत्तीसगढ़ के बिलासपुर तक चलेगी। इस ट्रेन की खास भारत यह है कि इसके सभी क्रू मेंबर नागपुर डिवीजन से हैं। वंदे भारत ट्रेन सोमवार को बिलासपुर से वापस नागपुर लौटेगी।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह भी वंदे भारत ट्रेन का स्वागत करने के लिए राजनांदगांव पहुंचे। इस दौरान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अरुण साव भी मौजूद रहे। इसके अलावा, सांसद विजय बघेल, राज्यसभा सदस्य सरोज पांडे ट्रेन का स्वागत करने के लिए दुर्ग रेलवे स्टेशन पर पहुंचे।

हवाई जहाज की तुलना में कम शोर

ट्रेन में बैठे ऐसे यात्री, जो हवाई यात्रा कर चुके हैं, ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन एक हवाई जहाज की तुलना में कई गुना कम शोर करता है। हमारा अनुभव है कि हवाई जहाज में यात्रा करने वाले अन्य लोग भी इस ट्रेन को निश्चित रूप से पसंद करेंगे। वहीं, वंदे भारत में सफर करने वाले यात्री मनीष ने कहा कि इससे शानदार और क्या होगा। भारतीय रेलवे का यह कदम सराहनीय है। इससे पर्यटकों को भी लाभ होगा।

अब आधे समय में पूरा होगा सफर’

नागपुर से बिलासपुर आ रहे रोशन कुमार ने कहा कि उनका घर बिलासपुर में हैं। पहले भी आना-जाना होता रहा, लेकिन आठ से 10 घंटे का सफर होने के कारण यात्रा करने का मन नहीं करता था। अब लगभग आधे समय में सफर पूरा होगा। मुझे आशा है कि वंदे भारत हम सभी को सुखद और सफल यात्रा के साथ आनंद से भर देगा।

वंदे भारत ट्रेन में उद्घोषणा के जरिए यात्रियों को अगले स्टेशन की जानकारी दी जाती है, जिससे यात्रियों को अपने स्टेशन पर उतरने में मदद मिल रही है। आम तौर पर देखा जाता है कि यात्री जानकारी नहीं होने या फिर सो जाने के कारण अपने स्टेशन पर उतर नहीं पाते। कई बार तो ऐसा होता है कि वे अपने गंतव्य स्टेशन से आगे जा सकते हैं, लेकिन इस व्यवस्था के तहत अब वे अपने गंतव्य स्टेशन पर ही उतर पाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button